श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट

प्रेस विज्ञप्ति

प्रेस विज्ञप्ति: भय्यूजी महाराज के ट्रस्ट द्वारा इस वर्ष 15,000 कंबलों के वितरण का लक्ष्य | 01-01-2016

सूर्योदय परिवार द्वारा नव वर्ष की पूर्व संध्या पर 1000 जरूरतमंदों के बीच  कंबलों का वितरण 

 

भय्यूजी महाराज के ट्रस्ट द्वारा इस वर्ष 15,000 कंबलों के वितरण का लक्ष्य

 

इंदौर: नव वर्ष की पूर्व संध्या पर जब शहर के अधिकांश लोग नव वर्ष के स्वागत में शहर के होटलों, पार्कों, क्लब हाउस में उत्सवी माहौल में नए साल की पार्टियों काजश्न मना रहे थे, भय्यूजी महाराज प्रणीत सूर्योदय परिवार के सेवाधारी सर्द रात में गरीबों का दुःख बाँटने में लगे थे और उन्हें ठंढ से बचाने के लिए कम्बल बाँट रहे थे। 

प्रति वर्षानुसार नव वर्ष 2016 की पूर्व संध्या श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट के सेवाधारियों, गुरुबंधुओं द्वारा ठण्ड से ठिठुर रहे शहर के विभिन्न क्षेत्रों मेंगरीबों, अनाथों एवं बेसहारा लोगों के बीच कंबलों का वितरण किया गया। कम्बल वितरण का कार्यक्रम जो शाम 6 बजे से शुरू हुआ मध्य रात्रि तक चलता रहा। प्रमुखरूप से शनि मंदिर (आस्था टाकीज), साईं मंदिर (परदेशीपुरा), खजराना मंदिर, बीमा हॉस्पिटल, रेलवे स्टेशन, सरवटे बस स्टेशन इत्यादि जगहों पर रात्रि गुजार रहेनिर्धनों, अनाथों, भिक्षुकों एवं अन्य गरीब लोगों के बीच लगभग 1000 कंबलों का वितरण किया गया। कम्बल वितरण कार्यक्रम में  ट्रस्ट के ट्रस्टी तुषार पाटिल, अनिलपरदेशी, सुनील पटेल, गणेश तळेकर, मकरंद पाटोले, दीपक घायल, महेश भोगल, संजय शिंदे आदि सम्मिलित थे।


श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट के चेयरमैन श्री शरद आर पवार ने कहा कि कम्बल वितरण का कार्यक्रम शीत ऋतु में निरंतर जारी रहेगा। इस शीतऋतु मेंट्रस्ट द्वारा मध्य प्रदेश एवं महाराष्ट्र के विभिन्न क्षेत्रों में 15,000 से अधिक कंबलों का वितरण निर्धनों एवं जरुरतमंदो के बीच किया जाएगा। पिछले 6 सालों में अब तकसंस्था द्वारा मध्य प्रदेश एवं महाराष्ट्र के निर्धनों के बीच 61,554  कंबलों का वितरण कर ठंढ एवं शीतलहर के प्रकोप से बचाया गया है।


श्री पवार ने कहा कि ट्रस्ट के सेवाधारी कंबल वितरण कार्यक्रम के अंतर्गत शीत ऋतु में रेलवे स्टेशन, फुटपाथ, मंदिर, दरगाह, बस स्टेंड, जेल, अनाथालय, वृद्धाश्रम, बालसुधार गृह, सरकारी अस्पतालों, मज़दूर बस्तिओं, रेन बसेरा इत्यादि जगहों पर जा गरीबों में मुफ्त कम्बलों का वितरण कर रहें है।   


© 2017 All Right Reserved