श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट

प्रेस विज्ञप्ति

सूर्योदय परिवार द्वारा वनवासी आदिवासियों में 7000 वस्त्रों का वितरण किया गया 03-04-2016

सूर्योदय परिवार द्वारा वनवासी आदिवासियों में 7000 वस्त्रों का वितरण किया गया 
 
भय्यूजी महाराज की संस्था क्षेत्र में शीघ्र नशा-मुक्ति आंदोलन चलाएगी   
 
बुलढाणा: राष्ट्र संत श्री भय्यूजी महाराज प्रणीत श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं परमार्थिक ट्रस्ट द्वारा आज महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले के संग्रामपुर तहसील अंतर्गत वसाली गावं स्थित हनुमान मंदिर परिसर में आयोजित एक भव्य समारोह में सूर्योदय वस्त्र बैंक योजना के अंतर्गत गावं एवं उसके आसपास के क्षेत्रों के 3000 गरीब आदिवासियों के बीच 7000 वस्त्रों का वितरण किया गया।  गोरक्षा समिति के नानाजी देशमुख ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की तथा सूर्योदय परिवार के वरिष्ठ गुरुबंधु रामराव देशमुख कार्यक्रम में उपस्थित थे। इस अवसर पर क्षेत्र के गणमान्य नागरिकों के अलावा सूर्योदय परिवार इंदौर के 'वस्त्र बैंक' प्रभारी अमित देशमुख, शरद देशमुख एवं अन्य प्रतिनिधिगण उपस्थित थे।    
कार्यक्रम के दौरान राष्ट्र संत श्री भय्यूजी महाराज ने आदिवासी ग्रामीणों से बात कर  ट्रस्ट द्वारा उनके सर्वांगीण विकास हेतु हर संभव सहयोग देने का आश्वासन दिया और कहा कि आने वाले दिनों में संस्था शीघ्र ही ग्रामीणों में शिक्षा के प्रचार प्रसार, पर्यावरण संरक्षण हेतु सघन वृक्षारोपण का कार्यक्रम आयोजित करेगी। इस अवसर पर उपस्थित अतिथियों ने अपने उद्बोधन में सूर्योदय परिवार के इस सेवा प्रकल्प को समाज के लिए एक आदर्श प्रस्तुत करने वाला उदाहरण निरुपित किया |
श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं परमार्थिक ट्रस्ट के चेयरमैन श्री शरद आर पवार ने बताया कि सूर्योदय वस्त्र बैंक योजना के अंतर्गत सुदूर आदिवासी बहुल ग्रामीण क्षेत्रों में गरीब आदिवासियों में निःशुल्क कपड़ों के वितरण के पीछे मूल उद्देश्य है इन आदिवासियों को जो देश की आज़ादी के इतने वर्षों बाद भी सभ्यता, प्रगति एवं विकास  से कोसों दूरं हैं, को राष्ट्र की मुख्य धारा से जोड़ना और इसके लिए आवश्यक है कि उनके तन पर कपडा हो, उन्हें खाने को अन्न मिले और उन्हें सर छुपाने का कोई आसरा हो। 
ज्ञात हो महाराष्ट्र का बुलढाणा जिला अत्यन्त पिछड़ा वनवासी क्षेत्र है, जहाँ विकास की रोशनी स्वतंत्रता के इतने वर्षों बाद भी नहीं पहुँच पाई है | यहाँ के आधिकांश निवासियों को शराब का व्यसन है और इसका प्रतिकूल असर उनकी आर्थिक, पारिवारिक और शारीरिक स्थिति पर पड़ रहा है। इस सन्दर्भ में श्री पवार ने अपने ट्रस्ट की आने वाली योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि सूर्योदय परिवार द्वारा शीघ्र ही क्षेत्र में ग्रामीणों को मदिरा की लत से दूर करने के लिए नशा-मुक्ति आन्दोलन चलाया जाएगा | 
 

© 2017 All Right Reserved