Deprecated: mysql_connect(): The mysql extension is deprecated and will be removed in the future: use mysqli or PDO instead in /home/parivarsuryoday/public_html/lib/config.php on line 24
श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट

सूर्योदय कृषि तीर्थ योजना

सन : 06-10-2006 स्थान : मध्य प्रदेश एवं महाराष्ट्र


मूल भावना – सूर्योदय कृषि तीर्थ योजना “सूर्योदय परिवार” की सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण योजनाओं में से एक है | कृषि तीर्थ से आशय यह है, कि हमारे तीर्थों को कृषि तीर्थ के रूप में स्थापित करना है, जिसमें तीर्थाटन व देव दर्शन के उद्देश्य से आये किसानों को कृषि सम्बन्धी जानकारी व सुविधाएँ उपलब्ध करवाकर उनके समय व प्रवास को सफल बनाने का प्रयास किया जाना है | यही इस योजना की मूल भावना है ।

संकल्प – तीर्थ स्थलों पर अध्यात्मिक व दैवीय वातावरण में धार्मिक ज्ञान के साथ-साथ कृषि सम्बन्धी ज्ञान प्रदान करना ही सूर्योदय परिवार का संकल्प है, जिसमें हर किसान को खुशहाल व विकसित किसान बनाने का संकल्प भी सम्मलित है ।

हमारे प्रयास – सूर्योदय परिवार द्वारा विभिन्न तीर्थस्थलों पर कृषि तीर्थ स्थापित किये गए हैं, जिनमें कई किसान नियमित रूप से लाभान्वित हो रहे है | कृषि तीर्थ स्थलों पर मृदा परिक्षण प्रयोगशाला स्थापित की गई है, एवं नियमित रूप से कृषि मेला व कृषि प्रदर्शनी का आयोजन किया जा रहा है | 

चुनौतियाँ – सूर्योदय कृषि तीर्थ की स्थापना करने के पीछे सूर्योदय परिवार का उद्देश्य बहुत ही स्पष्ट है, कि किसान तीर्थ स्थलों पर देव दर्शन के साथ-साथ कृषि सम्बन्धी जानकारियों से भी अवगत हो सके | लेकिन सबसे बड़ी चुनौती के रूप में केवल एक ही बात समझ में आती है, कि किसान अपनी कृषि संबधी जिज्ञासाओं के प्रति भी उतना सजग है, जितना अपने की धार्मिक एवं पारंपरिक मान्यताओं के लिए | सूर्योदय परिवार इन्ही दो पहलुओं में सामंजस्य स्थापित करने का प्रयास कर रहा है | 

परिणाम एवं सार्थकता – सूर्योदय कृषि तीर्थ योजना के अंतर्गत कृषि तीर्थ स्थलों पर विभिन्न सुविधाएँ उपलब्ध करवाई गई है, जिसमें मृदा परिक्षण प्रयोगशाला की स्थापना की गई है, जहाँ किसान अपनी खेत की मिटटी का निःशुल्क परिक्षण करवा सकते हैं और जिसके लिए उन्हें अतिरिक्त समय की भी आवश्यकता नहीं है | क्योंकि इस व्यवस्था द्वारा कृषि तीर्थ स्थलों पर ही प्रयोगशाला में मिट्टी का परिक्षण किया जाता है | नियमित रूप से कृषि मेला का व कृषि प्रदर्शनी का आयोजन किया जाता है, जिससे कई किसान निरंतर लाभान्वित हो रहे है ।

उपलब्धियाँ – सूर्योदय कृषि तीर्थ स्थापना के समय एक स्वप्न देखा गया था कि हम धार्मिक तीर्थ स्थलों को कृषि तीर्थ में परिवर्तित कर सकें | विभिन्न प्रकल्पों जैसे कृषि मेला व कृषि प्रदर्शनी के नियमित आयोजन द्वारा कई किसान लाभान्वित हुए है और हम उनके मन में यह विचार स्थापित करने में भी सफल हुए हैं, कि कृषि जो कि उनका मूल कर्म है, उनके प्रति भी धार्मिक मान्यताओं और परम्पराओं के सामान आदर व भावनाओं की आवश्यकता है ।

आकड़े – सूर्योदय परिवार द्वारा अब तक १० कृषि तीर्थ स्थापित किये गए है जो सभी आवश्यक सुविधाओं से लैस है ।

अभियान से जुड़े – “सूर्योदय परिवार” द्वारा चलाये जा रहे इस अभियान से हर वर्ग एवं आयु के लोग जुड़ सकते है | यदि आप इस अभियान से जुड़ना चाहते है तो आप नीचे दिए गए नंबर पर सम्पर्क कर सकते हैं:



सम्पर्क सूत्र - 7722992266 - 8



एक स्वयंसेवी बनें अभी दान कीजिए डाउनलोड रिपोर्ट समीक्षा लिखे

परियोजना फोटो


मीडिया फोटो


ग्राफ


© 2018 All Right Reserved