श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट

सूर्योदय बालग्राम योजना

सन : 10-06-2005 स्थान : मध्य प्रदेश एवं महाराष्ट्र



मूल भावना – बच्चे व युवा हमारे देश के भविष्य हैं | वे ही आगे चलकर एक विकसित राष्ट्र का निर्माण करेगें | सूर्योदय बालग्राम योजना का शुभारंभ मूलतः बच्चों में स्वावलंबन तथा प्रकृति प्रेम की भावना जाग्रत करने के हेतु से किया गया था | सदगुरु श्री भैय्युजी महाराज की प्रेरणा से इस योजना की शुरुआत हुई, जिसके अंतर्गत बच्चों द्वारा फलदार वृक्षों के पौधों का रोपण किया गया, जिससे उनके मन में पर्यावरण के प्रति संवेदनशीलता जागृत हो और आगे चलकर ये फलदार वृक्ष जब फल देना प्रारंभ करेगे तब वे फल उनकी आय का साधन भी हो सकते है | जिससे उन्हें अपनी शिक्षा व अन्य व्यय में सहायता मिलेगी |

संकल्प – इस योजना का संकल्प बच्चों में शिक्षा के साथ-साथ पर्यावरण के प्रति जागरूकता एवं स्वावलंबन के भावना जागृत करना है |

हमारे प्रयास – सूर्योदय बालगृह योजना के तहत मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र के गावों में प्रत्येक बच्चों को १० फलदार वृक्ष के पौधे वितरित किये जाते है तथा समय-२ पर उनके रख रखाव संबंधी मार्गदर्शन भी दिया जाता है |

चुनौतियाँ – समाज व देश को पर्यावरण के प्रति बढती असंवेदनशीलता से मुक्त कराना ही इस योजना की सबसे बड़ी चुनौती है |

परिणाम एवं सार्थकता – इस योजना के अंतर्गत बच्चों को सबसे पहले १० फलदार वृक्ष के पौधे वितरित किये जाते है | तथा उनकी महत्ता के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी जाती है एवं यह सुनिश्चित क्या जाता है कि उनके पालक, सहयोगी एवं स्कूल शिक्षकों द्वारा समय-समय पर उन पौधों के रख रखाव का पूरा ध्यान रखा जायेगा |

उपलब्धियाँ – इस योजना की सबसे बड़ी उपलब्धि उस भावना का विकास है, जो हमारे देश की प्रकृति का आधार है | एक तो पर्यावरण और दूसरा इस देश के बच्चे ये दोनों बर्ग ही देश के महत्तवपूर्ण स्तम्भ है और यह योजना इन दोनों को सापेक्ष्य व समान्तर लाने का प्रयास है | बच्चों द्वारा पौधों का रोपण व संरक्षण किया जाना अपने आप में एक उपलब्धि के तरफ बढ़ना है |

आकड़े – मध्य प्रदेश के धार व महाराष्ट्र के कई गावों में अब तक ९ हजार ६०५ बच्चों को ५३ हजार २९४ फलदार वृक्षों के पौधे वितरित किये गए है |

अभियान से जुड़े – “सूर्योदय परिवार” द्वारा चलाये जा रहे इस अभियान से हर वर्ग एवं आयु के लोग जुड़ सकते है | यदि आप इस अभियान से जुड़ना चाहते है तो आप नीचे दिए गए नंबर पर सम्पर्क कर सकते हैं:


एक स्वयंसेवी बनें अभी दान कीजिए डाउनलोड रिपोर्ट समीक्षा लिखे

परियोजना फोटो


मीडिया फोटो


© 2017 All Right Reserved