श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट

मंदिर, समाधि स्थल, दरगाह का जीर्णोद्धार

सन : 01-01-2012 स्थान : मध्य प्रदेश एवं महाराष्ट्र


मूल भावना – सर्व धर्म संभव का विचार रखने वाले श्री भैय्युजी महाराज हर धर्म के प्रति आस्था रखते है | किसी भी मत, संप्रदाय को मानने वाला व्यक्ति जो लोक कल्याण की भावना से प्रेरित है, हमारे लिए सम्मानीय है | हर धर्म उस पिता परमेश्वर तक पहुचने का मार्ग बताता है | गुरूजी के इन्हीं विचारों से प्रेरित होकर सूर्योदय परिवार मंदिर, दरगाह और समाधी स्थलों का जीर्णोद्धार करता आया है | हमारे देश में कई ऐसे ऊर्जावान स्थल है, जहाँ जाने पर व्यक्ति को अद्भुत आनंद और शांति का अनुभव होता है | यहाँ जाकर व्यक्ति अपनी सारी नकारात्मकता को सकारात्मकता में परिवर्तित हुआ पता है व अपनी सभी तामसिक प्रवृतियों को भूलकर अपनी ज्ञानमय चेतना को जाग्रत करता है तथा अध्यात्मिक ऊर्जा ग्रहण करता है | मानव जाति को एकता के सूत्र में बाँधने के लिए संत शांति का सन्देश देने के लिए धरती पर अवतरित हुए है | भारत में ऐसे अनेक संत हुए है, जिनकी समाधियाँ आज भी अप्रतिम ऊर्जा के साथ उपस्थित है |

संकल्प – प्राचीन मंदिरों, समाधि स्थलों एवं दरगाहों का जीर्णोद्धार करना व उन पवित्र स्थलों व सूफी, संतो की शिक्षा को आत्मसात करना ही संकल्प है | 

हमारे प्रयास – सूर्योदय परिवार द्वारा समय-समय पर जीर्ण-शीर्ण धार्मिक व अध्यात्मिक स्थलों जैसे मंदिर, समाधी स्थल, दरगाह आदि के जीर्णोद्धार व कायाकल्प का बीड़ा उठाया जाता है, जिसके पीछे यही मूलभावना रहती है कि हम इन ओजस्वी व उर्जामायी भौगोलिक क्षेत्रों में सकारात्मक शक्ति व ऊर्जा प्राप्त कर सके | 

चुनौतियाँ – हर ऐसा कार्य जहाँ पुरातन व प्राचीन स्थलों का जीर्णोद्धार व कायाकल्प किया जाता है, वहां सबसे बड़ी चुनौती उस स्थान की मूलभावना व पवित्रता को अखंड व अक्षय रखना ही सबसे बड़ी चुनौती होती है | 

परिणाम एवं सार्थकता – अब तक संस्था द्वारा कई धार्मिक व अध्यात्मिक स्थलों के जीर्णोद्धार का कार्य किया गया है और यह ध्यान रखा गया है कि उन स्थलों की ऐतिहासिकता व महत्ता सुरक्षित रहें | 

उपलब्धियाँ – इतिहास हमेशा मनुष्य को प्रेरित करता आया है कि हम इतिहास की प्रत्येक महत्त्वपूर्ण चीजों को सहेजकर रखे | हमारे देश में कई ऐसे समाधी स्थल, दरगाह, मंदिर व ऐतिहासिक धरोहर है, जिनका संरक्षण, जीर्णोद्धार हमारा कर्तव्य है | सूर्योदय परिवार इस कार्य में स्वयं को संलग्न कर पाना ही अपनी उपलब्धि समझता है | 

आकड़े – अब तक १२ धार्मिक स्थलों का जीर्णोद्धार किया गया है |



एक स्वयंसेवी बनें अभी दान कीजिए डाउनलोड रिपोर्ट समीक्षा लिखे

परियोजना फोटो


मीडिया फोटो


© 2017 All Right Reserved