श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट

सूर्योदय मिट्टी एवं जल परीक्षण प्रयोगशाला

सन : 07-07-2006 स्थान : महाराष्ट्र


मूल भावना – वर्तमान समय एक बड़े परिवर्तन का समय है | युग तेजी से बदल रहा है व आधुनिक विज्ञान जिस तरह से तरक्की कर रहा है, निःसंदेह अदभुत है | जितना विकास पिछले कुछ दशकों में हुआ है, पूर्व में कभी नहीं हुआ | इस विकास ने हमें कई लाभकारी व उपयोगी साधन व सुविधाएं दी हैं, लेकिन साथ ही इसके कई हानिकारक प्रभाव व परिणाम हमें देखने को मिलते है | हम एक कृषि प्रधान देश होते हुए भी हमारी खाद्यान आपूर्ति के लिए दूसरे देशों पर आश्रित रहते हैं | कृषि की तकनीक व पद्धति दोनों में बहुत परिवर्तन आए | नई-नई मशीनें, रासायनिक खाद व दवाइयां चलन में आने लगीं, जिसने निश्चित तौर पर सामान्य पैदावार से अधिक उत्पादन दिया, लेकिन इसके ठीक विपरीत रासायनिक खादों व दवाइयों ने जो नुकसान हमारे भूमि व जल संसाधनों को पहुँचाया है, वह भयावह है | हमारी मिट्टी दिन प्रतिदिन अपनी उपजाऊ क्षमता खोती जा रही है व स्त्रोत विषैले होते जा रहे हैं | आम किसान को इसी दिशा में जागरूक करने के लिए सदगुरु श्री भैय्युजी महाराज की प्रेरणा से सूर्योदय जल एवं मिट्टी परिक्षण प्रयोगशाला का शुभारंभ किया गया |

संकल्प – सूर्योदय मिट्टी एवं जल परिक्षण प्रयोगशाला की स्थापना के समय यह संकल्प लिया गया कि जो किसान आर्थिक तौर पर इतने सक्षम नहीं है कि कृषि से जुड़े हर आधुनिक पहलुओं के बारे में जान सके, उनके लिए सूर्योदय परिवार द्वारा खाद, मिट्टी व जल परिक्षण प्रयोगशाला की सुविधा उपलब्ध की जा रही है, जिससे हम हमारे अन्नदाता किसानों की ख़ुशहाली के लिए एक सकारात्मक प्रयास करने में सफल होगें |

हमारे प्रयास – १२ दिसम्बर २००८ में ऋषि संकुल, सजनपुरी खामगांव जिला बुलढाना महाराष्ट्र में इस मिट्टी एवं जल परिक्षण प्रयोगशाला का विधिवत् शुभारंभ किया गया जिसके अंतर्गत किसानों के लिए बीज, खाद, जल व मिट्टी परिक्षण की व्यवस्था की गई | 

चुनौतियाँ – इस समय कृषि के सामने सबसे बड़ी चुनौती यह है कि रासायनिक खाद व दवाइयों का अमर्यादित प्रयोग हमारी मिट्टी व दूसरे जल संसाधनों को दूषित कर रहा है, जो बहुत चिंतनीय है | इस अभियान की सबसे बड़ी चुनौती किसानों को इसके दुष्परिणामों की जानकारी देकर इसके बारे में जागरूक करना थी |


परिणाम एवं सार्थकता – ऋषि संकुल, सजनपुरी सजनपुरी खामगांव जिला बुलढाना महाराष्ट्र में इस मिट्टी एवं जल परिक्षण प्रयोगशाला का विधिवत् शुभारंभ के बाद नियमित रूप से इस प्रयोगशाला द्वारा कई किसान लाभान्वित हो रहे है, जिसमें किसानों के लिए निःशुल्क मिट्टी एवं जल परिक्षण की सुविधा उपलब्ध की गई | 

उपलब्धियाँ – महाराष्ट्र में वर्ष २०११ में कृषि मेले के अंतर्गत मिट्टी व जल परिक्षण की व्यवस्था की गई थी जो कृषकों के लिए बेहद लाभकारी रही | दत्त जयंती के शुभ अवसर पर चलित परिक्षण प्रयोगशाला का भी शुभारंभ किया गया | जिसके द्वारा किसान तक पहुचकर उन्हें जल व मिट्टी के परिक्षण की सुविधा दी गई | साथ ही कृषि से जुड़ी अन्य सभी जानकारियां भी प्रदान की गई |

आकड़े – वर्ष २००८ से अब तक लाखों किसान इस योजना का लाभ उठा चुके है |

अभियान से जुड़े – “सूर्योदय परिवार” द्वारा चलाये जा रहे इस अभियान से हर वर्ग एवं आयु के लोग जुड़ सकते है | यदि आप इस अभियान से जुड़ना चाहते है तो आप नीचे दिए गए नंबर पर सम्पर्क कर सकते हैं:



सम्पर्क सूत्र - 7722992266 - 8



एक स्वयंसेवी बनें अभी दान कीजिए डाउनलोड रिपोर्ट समीक्षा लिखे

परियोजना फोटो


मीडिया फोटो


© 2017 All Right Reserved