श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट

सूर्योदय कन्या दान योजना

सन : 09-11-2002 स्थान : मध्य प्रदेश एवं महाराष्ट्र


मूल भावना – हमारे देश में हर पिता के लिए बेटी का विवाह सबसे बड़ा उत्तरदायित्व होता है | आज के इस आधुनिक युग में किस निर्धन व्यक्ति के लिए अपनी कन्या का विवाह कराना बड़ा मुश्किल है | एक ओर बढती हुई महंगाई व दूसरी ओर कुछ समाज व समुदायों में चली आ रही दहेज़ प्रथा इस समस्या को और अधिक चिंतनीय बना देती है | कई बार यह भी देखने में आया है, कि कई योग्य व गुणवान कन्यायें सिर्फ संसाधनों के चलते अविवाहित रह जाती है | सदगुरु श्री भैय्युजी महाराज द्वारा यह संकल्प लिया गया है, कि प्रतिवर्ष १५१ कन्याओं का निःशुल्क विवाह उनके सान्निध्य में संम्पन्न कराया जाएगा | 

संकल्प – इस योजना का संकल्प उन बेटियों की सहायता कारण जो अपनी पारिवारिक व आर्थिक स्थिति के चलते योग्य होते हुए भी अपने विवाह से वंचित है | सूर्योदय परिवार का यह संकल्प है कि योजना के माध्यम से दहेज़ मुक्त विवाह संपन्न करवाया जाए | जिसमे आवश्यक व्यय के अलावा कोई भी अनावश्यक धन खर्च नहीं किया जाता हैं | 

हमारे प्रयास – सदगुरु श्री भैय्युजी महाराज की प्रेरणा से प्रतिवर्ष १५१ कन्याओं का निःशुल्क विवाह करवाया जाता है जिसमे धार्मिक मान्यताओं को पूरा सम्मान करते हुए सीमित खर्च में विवाह संपन्न किये जाते है व या आयोजन दहेज़ जैसी कुप्रथा से हमेशा अछूता रहता है | गुरूजी की प्रेरणा से प्रतिवर्ष सर्वधर्म सामूहिक विवाह सम्मलेन का आयोजन भी किया जाता है | 

चुनौतियाँ – इस आदोलन की सबसे बड़ी चुनौती लोगों को यह विश्वास पैदा करना थी कि उनके हर सुख व दुःख में सूर्योदय परिवार उनके साथ हैं और केवल आर्थिक व्यवस्था के चलते अगर वे अपनी सद्गुणी पुत्री का विवाह करने में सक्षम नहीं है तो हम सदा उनके साथ है |

परिणाम एवं सार्थकता – प्रतिवर्ष नियमित रूप से १५१ कन्याओं का सामूहिक विवाह किया जाता है | साथ ही सर्वधर्म सामूहिक विवाह सम्मलेन का आयोजन किया जाता है, जिसके अंतर्गत हर धर्म की धार्मिक मान्यताओं का सम्मान करते हुए सभी विवाहिक जोड़ों का विवाह संम्पन करवाया था | 

उपलब्धियाँ – हमारे इस अभियान की सबसे बड़ी उपलब्धि यही है कि हम दहेज़ जैसी कुप्रथा पर गहरी चोट करने में सफल हुए है | हमारे विवाह सम्मलेन में लगभग हर धर्म व जाति के लोगों का उनके धर्म व रीति रिवाज़ों के अनुसार विवाह संम्पन्न करवाया जाता है | लेकिन किसी भी पक्ष द्वारा दहेज़ व किसी भी ऐसी वस्तु की मांग नहीं की जाति जिसे दूसरा पक्ष देने में सक्षम न हो |

आकड़े – सूर्योदय कन्या दान योजना के अंतर्गत अब तक ७ हजार ७६४ कन्याओं का विधिवत विवाह संपन्न करवाया जा चुका है |

अभियान से जुड़े – “सूर्योदय परिवार” द्वारा चलाये जा रहे इस अभियान से हर वर्ग एवं आयु के लोग जुड़ सकते है | यदि आप इस अभियान से जुड़ना चाहते है तो आप नीचे दिए गए नंबर पर सम्पर्क कर सकते हैं:



संपर्क सूत्र - 7722992266 - 7



एक स्वयंसेवी बनें अभी दान कीजिए डाउनलोड रिपोर्ट समीक्षा लिखे

परियोजना फोटो


मीडिया फोटो


ग्राफ


© 2017 All Right Reserved