श्री सदगुरु दत्त धार्मिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट

सूर्योदय वसु स्वर्ग वृक्षारोपण योजना

सन : 05-07-2001 स्थान : मध्य प्रदेश एवं महाराष्ट्र


मूल भावना – ग्लोबल बर्मिंग के दुष्परिणामों को देखते हुए वृक्ष संवर्धन आज की आवश्यकता है | धरती पर फ़ैल रहे प्रदूषण से जन जीवन प्रभावित हो रहा है | मनुष्य से लेकर अन्य किट पतंगों व पशु-पक्षियों की प्रजातियाँ समाप्त हो रही है | मनुष्य का अस्वस्थ होने का मुख्य कारण यही है | अनेक रोगों से मनुष्य त्रस्त है | प्राकृतिक असंतुलन नृत्य बढता जा रहा है | कही अधिक वर्षा है तो कहीं सूखा हैं | मनुष्य ने अपने स्वार्थ के लिए लहलहाती भूमि को बंजर बना दिया है | प्रकृति का उग्र रूप हमें दिखाई दे रहा है, हम प्रकृति के तांडव से बचें इस हेतु हमें अधिक से अधिक पेड़ लगाने होंगे |

संकल्प – सूर्योदय परिवार का यह संकल्प है कि वृक्षों की अंधाधुंध कटाई बंद करवाने का प्रयास किया जायेगा एवं नए वृक्षों का रोपन कर पर्यावरण व वृक्ष संवर्धन की दिशा में कार्य किये जायेगे | 

हमारे प्रयास – इस अभियान के अंतर्गत सूर्योदय परिवार द्वारा वनों की अवैध कटाई रोकने का निरंतर प्रयास किया जा रहा है | साथ ही नियमित रूप से वृक्षारोपण का कार्य किया जाता है एवं आम जन मानस को वृक्षों की उपयोगिता के बारे में जागरूक कर वृक्षारोपण के लिए प्रेरित किया जा रहा है | 

चुनौतियाँ – इस अभियान की सबसे बड़ी चुनौती वनों की अंधाधुंध तरीकों से होती कटाई है | जो कि हमारे उद्देश्य की पूर्ति में सबसे बड़ी बाधा है, क्योंकि एक पूर्ण विकसित वृक्ष एक अमूल्य संपदा की तरह है जो कई बर्षों के बाद विकसित रूप ग्रहण करता है | वृक्षारोपण के साथ-साथ वनों की अवैध कटाई रोकना ही इस अभियान की चुनौती है | 

परिणाम एवं सार्थकता – इस योजना की सार्थकता इसी बात से है कि सूर्योदय परिवार द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को वृक्षारोपण के लिए प्रेरित किया गया तथा सभी गुरुबंधुओं को यह प्रण दिलाया गया है कि वह वृक्ष संवर्धन के लिए कार्य करते रहेगे | 

उपलब्धियाँ – सदगुरु श्री भैय्युजी महाराज द्वारा गुरुपूर्णिमा एवं दत्त जयंती के समय भक्तों व शिष्यों को पाद्य पूजा के स्थान पर वृक्षरोपण व पूजन की प्रेरणा दी गई है | सभी भक्त, शिष्य व गुरुबंधु नियमित रूप से वृक्षारोपण करते है | 

आकड़े – अब तक १९ लाख ४९ हजार ११ वृक्षारोपण किए जा चुके है | 

अभियान से जुड़े – “सूर्योदय परिवार” द्वारा चलाये जा रहे इस अभियान से हर वर्ग एवं आयु के लोग जुड़ सकते है | यदि आप इस अभियान से जुड़ना चाहते है तो आप नीचे दिए गए नंबर पर सम्पर्क कर सकते हैं:



सम्पर्क सूत्र - 7722992266 - 8



एक स्वयंसेवी बनें अभी दान कीजिए डाउनलोड रिपोर्ट समीक्षा लिखे

परियोजना फोटो


मीडिया फोटो


ग्राफ


© 2017 All Right Reserved